रद्द करने की संस्कृति ( Cancel Culture)

रद्द करने की संस्कृति ( Cancel Culture)

चर्चा में क्यों है ?

हाल ही में भारत की कई प्रसिद्ध हस्तियों के सोशल मीडिया खातों पर प्रतिबंध लगाया गया जिसमें फिल्म अभिनेत्री कंगना रानावत शामिल हैं । इस तरह से स्पष्ट है हाल के दिनों में ,रद्द करने की संस्कृति लगातार बढ़ रही है।

कैंसिल कल्चर क्या है ?

  • कैंसिल कल्चर अपेक्षाकृत नई अवधारणा की ओर इंगित करता है । यह केवल पिछले पांच से छह वर्षों में सामने आया है और मोटे तौर पर यह  इंटरनेट संस्कृति का एक उत्पाद  है। इस शब्द का सटीक अर्थ अभी भी पता लगाया जा रहा है । रद्द करने की संस्कृति के सबसे स्पष्ट उदाहरण तब होते हैं जब कोई सेलिब्रिटी या सार्वजनिक व्यक्ति कुछ कहता है या लिखता है या किसी ऐसे कार्य में संलग्न होता है जिसे जनता द्वारा आपत्तिजनक और अनुचित माना जाता है।
  • जब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर बड़ी संख्या में लोग सामूहिक रूप से किसी सार्वजनिक शख्सियत के किसी कार्य या वक्तव्य  पर आपत्ति जताते हैं, तो यह उस व्यक्ति को ‘रद्द’  (Cancel) करने के लिए कहता है। यह रद्दीकरण (Cancelling) व्यक्ति के कार्यस्थल पर उन्हें बर्खास्त करने के लिए दबाव डालने, उस व्यक्ति के साथ अपना जुड़ाव छोड़ने के लिए ब्रांडों पर दबाव डालने, बहिष्कार की धमकियों का उपयोग करने या किसी अन्य कार्रवाई में शामिल होने से होता है जो व्यक्ति की प्रतिष्ठा या वित्त को प्रभावित करता है।

कैंसिल कल्चर का उद्भव :

कैंसिल कल्चर के उद्भव का समयकाल  बहस का विषय (Debatable) है  ,लेकिन कुछ पर्यवेक्षकों का मानना ​​है कि इसका आगमन #MeToo आंदोलन के साथ हुआ, जिसमें  हिंसा और दुर्व्यवहार की  शिकार महिलाओं ने अपने अनुभवों को साझा करने के लिए सार्वजनिक प्लेटफार्मों का उपयोग किया।

क्या यह उपयोगी है ?

  • अमेरिकी अभिनेता केविन हार्ट, जो अपने होमोफोबिक ट्वीट्स और अभिनेता द्वारा अतीत में किए गए कथित चुटकुलों के लिए किसी भी वास्तविक जवाबदेही का सामना नहीं करते थे। जब ये रिपोर्टें सामने आईं, तो हार्ट को 2019 अकादमी पुरस्कारों के मेजबान के रूप में पद छोड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा।
  • पूर्व विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर  पर ‘मी टू’ आंदोलन के माध्यम सेकई महिला सहयोगियों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था जिसके कारण  उनको अपने पद से त्यागपत्र देना पड़ा था।
  • इसके अलावा अभी हाल ही में भारतीय फिल्म अभिनेत्री कंगना रानावत के ट्विटर अकाउंट को आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट करने के लिए ट्विटर ने संस्पेंड कर दिया इससे पूर ट्विटर ने पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के ट्विटर अकाउंट को रद्द कर दिया था ।

आगे की राह :

कैंसिल कल्चर के द्वारा किसी व्यक्ति की अभिव्यक्ति और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार को प्रभावित नहीं करना चाहिए, इसका उपयोग किसी व्यक्ति को बदनाम करने के लिए नहीं होना चाहिए  एवं  व्यक्तियों को सोशल मीडिया या सार्वजनिक रूप से कुछ भी कहते या पोस्ट करते समय कुछ प्रतिबंधों का पालन करना चाहिए।

रद्द करने की संस्कृति ( Cancel Culture)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll to top