Pariksha Manthan: Vidhi Prashnottar Shrinkhla- 10 Law of Torts परीक्षा मंथन : विधि प्रश्नोत्तर श्रंखला- 10 अपकृत्य विधि

170.00

Code : 084
 Language : Hindi
 ISBN : 978-93-82684-55-8

Categories: ,

Description

अपकृत विधि

 विषय सूची 

अध्याय-1:  अपकृत की प्रकति एवं व्याप्ति
अध्याय-2:  अपकृत विधि में दायित्व आधार
अध्याय-3:  सामान्य बचाव
अध्याय-4:  उपचार
अध्याय-5: अपकृत्यओ का उन्मोलन
अध्याय-6: पक्षकारो की मृत्यु का   अपकृत्य –  वादों पर प्रभाव
अध्याय-7:  कतिपय व्यक्तिओ द्वारा  या  उनके   विरुद्ध वाद लाने का समर्थन
अध्याय-8: अपकृत्य के  लिए राज्य   का  दायित्व
अध्याय-9: संयुक्त अप्क्रित्याकर्ता
अध्याय-10:  मद्यावर्ती नवीन कृत्य घटनाये
अध्याय-11: एक ही वाद – कारण पर उतरावृति कार्यवाहिया
अध्याय-12:  विदेशी अपकृत्य
अध्याय-13:  कठोर दायित्व या रैस्लंड्स बनाम   फ़्लेचेर नियम
अध्याय-14: ‘पचुओ द्वारा करित क्षति के लिए दायित्व

अध्याय-15: खतरनाक वस्तुओं   के लिये दायित्व तथा दोनोघ बनाम स्टीवेंसन नियम
अध्याय-16:  खतरनाक भूमि तथा परिसर के लिए  अभियोगी का दायित्व
अध्याय-17: प्रतिनिधिक दायित्व
अध्याय-18:  अपकृत्ययों का वगीकरण
अध्याय-19: हमला और सप्रहर
अध्याय-20:  मिथ्या कारावास
अध्याय-21: मानसिक अघात
अध्याय-22: घरेलु तथा  अन्य अधिकारओ  के उलंघन संबधी अपकृत्य
अध्याय-23:   भूमि – अतिचार
अध्याय-24:  समपरिवर्तन का अपकृत्य
अध्याय-25:  क्षतिकरक  मिथ्याकथन तथा दुसरे के नाम पर अपना माल  बेचना
अध्याय-26: उत्पात या  नुइसंस

अध्याय-27:  उपेक्षा
अध्याय-28:  योगदायी उपेक्षा
अध्याय-29:   कपट  तथा उपेक्षापुण अप्कथान
अध्याय-30:  षडयंत्र
अध्याय-31:  विधिक प्रक्रिया का दुरपयोग (विद्वेषपूर्ण अभियोजन , वाद पोषण तथा जयंश – क्रय  आदि )
अध्याय-32’:   मानहानि

अन्य :

समस्या
महत्वपूर्ण न्यायिक निर्णय (२०१९ तक अद्यतन)

Page – 200

Pariksha Manthan: Vidhi Prashnottar Shrinkhla- 10 Law of Torts परीक्षा मंथन : विधि प्रश्नोत्तर श्रंखला- 10 अपकृत्य विधि

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Pariksha Manthan: Vidhi Prashnottar Shrinkhla- 10 Law of Torts परीक्षा मंथन : विधि प्रश्नोत्तर श्रंखला- 10 अपकृत्य विधि”

Your email address will not be published.

Scroll to top